Disclaimer : This website is only for demo purpose. Any content on this is not authorized & no one can claim on this.
logo

शहर की रैंकिंग तय कर सकती है पार्कों में कम्पोस्टिंग सिस्टम

03-Oct-2017

पार्कों में नहीं किए यह उपाय तो शहर को होगा नुकसान

छिंदवाड़ा . स्वच्छता सर्वेक्षण २०१८ में इस बार शासकीय, सार्वजनिक विभागों द्वारा अनुरक्षित पार्क तथा उद्यान के कचरे से स्थलीय कम्पोस्टिंग को शामिल किया गया है। पार्कों में कम्पोस्टिंग की व्यवस्था पर प्राथमिक तौर पर २८ अंक निर्धारित किए गए हैं। नगर निगम छिंदवाड़ा ने इसके लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसमें तीन पार्कों में कम्पोस्टिंग सिस्टम बना भी दिया गया है जबकि दो में कार्य जारी है।

स्वच्छता सर्वेक्षण में कम्पोस्ट को शामिल किए जाने का उद्देश्य कचरे के ऑन साइट प्रसंस्करण को बढ़ावा देना है, जो कचरे के प्रसंस्करण के लिए बाहरी निर्भरता को कम करेगा। शहर के भीतर पार्कों की कुल संख्या के दस्तावेजों को देखकर, बगीचों से उत्सर्जित कुल कचरे पर विस्तृत रिपोर्ट, खाद बनाए जाने वाले पार्कों की संख्या, कंपोस्टिंग मशीन की खरीद को निर्दिष्ट करने वाले दस्तावेज एवं पार्क में उत्पादित खाद की मासिक बुक से सत्यापन किया जाएगा। शहर के कुल पार्कों की संख्या के आधार पर ही २८ अंक दिए जाएंगे। यदि अनुमानत: शहर में ५० पार्कों की संख्या तय की जाए तो अभी निगम द्वारा आठ अंकों के लिए कार्य पूरा कर लिया गया है। उपयंत्री विवेक चौहान ने बताया कि एकता पार्क, दीनदयाल पार्क, निगम नर्सरी में कंपोस्ट तकनीक तैयार हो चुकी है, जबकि बर्मन की जमीन एवं सिविल लाइन पार्क में काम शुरू है।

२८ अंक हैं थोक कचरा उत्पादकों के प्रबंधन पर

इस पैरामीटर के आधार पर आवासीय क्षेत्रों में थोक कचरा उत्पादकों द्वारा उत्पन्न कचरे के विकेन्द्रीकृत प्रबंधन की सीमा का आकलन किया जाता है। अंकों के क्रमीकरण का पदानुक्रम एेसा है कि जिस शहर में थोक कचरा उत्पादकों द्वारा कचरे का प्रबंधन किया जाता है, उच्चतम २८ अंक हासिल करता है।

२४ अंक पोर्टल पर पंजीकृत हैं तो मिलेंगे

शहर के लिए नामित कम्पोस्ट उत्पादक पोर्टल पर पंजीकृत है और उत्पादक नियमित रूप से उत्पादन सम्बंधी जानकारी पोर्टल पर अपडेट कर रहा है तो भी अर्बन क्षेत्र अंतर्गत कम्पोस्ट निर्माताओं और खाद निर्माताओं की सूची के वैरीफिकेशन के बाद २४ अंक हासिल हो <br>सकते हैं।

१० अंक खरीद पर और कम्पोस्टिंग सम्बधी सूचना प्रसार पर १२ अंक

स्रोत पृथक्करण व विकेन्द्रित कम्पोस्टिंग सम्बंधी सूचना प्रसार व गतिविधियां सुनिश्चित करने के लिए निवासी रहवासी संघ, धार्मिक गुरुओं , स्वसहायता समूहों के साथ त्रैमासिक बैठकों पर भी १२ अंक तय किए गए हैं। वहीं शहर की इस खाद को ५० प्रतिशत से अधिक किसानों के खरीदने पर दस अंक तय किए गए हैं।

एेसे बनाते हैं कम्पोस्टिंग सिस्टम

कम्पोस्ट के लिए गड्ढों प्राय: तीन फीट लम्बा व तीन फीट चौड़ा बनाया जाता है। इस गहराई तक फूल, पत्ती, कूड़ा, सब्जी, रसोई के कचरे को सड़ाने के लिए जिम्मेदार बैक्टीरिया आसानी से पहुंच जाता है। गड्ढे में नीचे तह को नेचुरल ही छोड़ दिया जाता है। जैविक कचरा डालकर भरने के बाद गोबर या केमिकल की तह फैलाई जाती है। पूरे गड्ढे को दबा कर समय समय पर हलका पानी डाला जाता है। जिससे नमी से जल्दी गलन व सडऩ होती है। तीन चार माह में भरपूर पोषक तत्वों से युक्त कम्पोस्ट तैयार हो जाएगी।

 

Your Comment
  • .
  • .

Ξ Horoscope More +

Aries
Taurus
Gemini
Cancer
Leo
Virgo
Libra
Scorpio
Sagittarius
Capricorn
Aquarius
Pisces

Ξ अंकशास्त्र More +

One
Two
Three
Four
Five
Six
Seven
Eight
Nine